इस वेबसाईट पर आपको अंग्रेजी दैनिक समाचार पत्र ‘’द हिन्‍दूू (The Hindu)’’ की महत्‍वपूर्ण सामग्री का हिन्‍दी में अनुवाद उपलब्‍ध कराया जा रहा है। कृपया बटन "The Hindu in Hindi" क्लिक कीजिये।

We Make Things Happen.

इस वेबसाईट के पृष्‍ठ https://www.mathsacad99.com/thehindu-in-hindi पर सामाचार पत्र The Hindu में छपे निम्‍नलिखित आटीकल्‍स का पूर्णतया शब्‍दश: अनुवाद उपलब्‍ध है।

Ecologists have 596 reasons to cheer

पारिस्थितिकीविदों के पास जयकार करने के 596 कारण

SEBI, MCA sign pact for more data scrutiny

अधिक डेटा संवीक्षा हेतु सेबी और एमसीए में करार हस्‍ताक्षरित

No surprises

कोई आश्‍चर्य नहीं

Methane on Mars

मंगल ग्रह पर मीथेन

Needed: a solar manufacturing strategy

जरूरत है: एक सौर विनिर्माण रणनीति की

The immediate neighbourhood

निकटतम पड़ोस

For more inclusive private schools

अधिक समावेशी निजी स्कूलों के लिए

Decolonising the Chagos archipelago

चागोस द्वीपसमूह को डीकोलोनाइज़ किया जाना

Fine-tuning the education policy

शिक्षा नीति में सुधार

A rocky road for strategic partners

रणनीतिक भागीदारों के लिए एक कठिन मार्ग

Make up for lost time

खोये समय की प्रतिपूर्ति

U.S. visa process needs social media profiles now

अमेरिकी वीजा प्रक्रिया में सोशल मीडिया प्रोफाइल की आवश्‍यक्‍ता

Slowdown confirmed

मंदी की पुष्टि

Astronaut’s body biology changes during space travel

अंतरिक्ष यात्रा के दौरान अंतरिक्ष यात्री के शरीर के जैविक बदलाव

A second election for Israel

इज़राइल के लिए दूसरा चुनाव

Body scanners made mandatory at 84 airports

84 हवाई अड्डों पर बॉडी स्कैनर्स को अनिवार्य किया गया

How does it work??????

This website and another one 'www.iasdata.com' provide you the solutions galore to you for your preparation of IAS exam.
हिन्‍दी माध्‍यम वाले अभ्‍यर्थियों के लिये खुशखबरी - इस वेबसाईट पर, संभवत: किसी भी वेबसाईट पर पहली बार, आपको अंग्रेजी दैनिक समाचार पत्र ‘’द हिन्‍दूू (The Hindu)’’ की महत्‍वपूर्ण सामग्री का हिन्‍दी में शब्‍दश: अनुवाद उपलब्‍ध कराया जा रहा है।
कृपया बटन "The Hindu in Hindi" क्लिक कीजिये।
यह वेबसाइट और एक अन्य 'www.iasdata.com' आपको IAS परीक्षा की तैयारी के लिए प्रचुर समाधान प्रदान करती है।

For finding out all reporting on some topic, related with a GS paper, which were published in “The Hindu”, you need to do a cumbersome exercise on Google and there is no guarantee that Google can put you through all details after putting search criteria, and that too date wise the way you wished to see.

There is a solution to all these misdemeanors.

The website www.iasdata.com presents before you the contents/news/articles of Current Affairs taken from various newspapers, particularly The Hindu, topic-wise, strictly as per the syllabus of IAS exam. And, with a topic and its sub-topic, the newspaper selected from the drop-down menus and duration, you get almost all the reporting with report’s link of newspaper, and news itself.
This is absolutely free.

Hence, the effort of this website www.iasdata.com is to put together all threads of links of news material of some topic along with news caption and news material in some chronological order so that you could save a lot of your precious time and utilize in some other productive work.

 

All matter, related with some topic (say for example GDP) published in the newspaper “The Hindu” in the period 1st June 2018 – 31st May 2019 may be very difficult to search, depending upon various dates of publication and on type of search criterion, may lie in multiple pages at Google.

We have put all these threads together with complete details of Topic, Date, Newspaper, Link, Caption and News with necessary editing. This facilitates you to get all relevant material related to some specific topic at one place.

This is a unique presentation of articles published in The Hindu etc., date-wise, paper-wise, topic-wise.

The two websites, this one and www.iasdata.com, have a lot of lots you always craved for, for preparing for IAS and other competitions.

An unprecedented way of teaching for the preparation of IAS Exam. Never seen  before.

The two sites, this site and the site www.iasdata.com, give you a very remarkable and unparalleled insight into the realm of current affairs, focusing mainly on one newspaper, i.e. The Hindu, but keeping good track of news items, published in other newspapers too.

Needless to say, the IAS (Mains) GS papers, particularly, I, II and III as well as the paper of IAS (Prelims) GS draw their contents, primarily from the newspaper The Hindu.

The exclusiveness of presentation of contents on www.iasdata.com is exclusive on the grounds of Class, Contents and Concept:

  1. The news stuff has been categorized in GS Papers, strictly as per the the syllabus, and put together.

  2. Every news item may have ‘Latin and French’ terms, means such terms which you need to have some prior background before understanding the news item properly. For example, in one PPT on Biofuels (available at page https://www.mathsacad99.com/iasdata with link https://docs.wixstatic.com/ugd/6c7252_f4fa800a991b4b4382c905073d5f8a57.pdf) you must have a pre-knowledge of the terms “Particulate Matter 2.5 (PM2.5)”, “Octane Rating”, “BTX” etc. so as to understand the topic fully.

  3. Hence, in our presentation of news, it has been taken care of that you are given the best of understanding of such terms appearing in the news item itself.

  4. Wherever necessary, the contents have been explained with the aid of google map.

  5. The articles have been formatted in terms of bulletting or highlighting or color-underlining only the core issue the same way you do when you read the newspaper. This gives you an extra mark in grasping even the hidden but important aspect of some point hitherto covert.

  6. Keeping in view that the contents of news shall be very thoroughly used in your preparation of Mains exam, not much arbitrary editing has been done to the contents of the Article and almost complete material has been provided.

सिविल सेवा परीक्षा

यह साइट www.iasdata.com आपको मुख्य रूप से अखबार “द हिंदू” एवं अन्‍य से लिए गए करंट अफेयर्स के विषयों में एक बहुत ही उल्लेखनीय और अद्वितीय अंतर्दृष्टि प्रदान करती है। सामग्री की प्रस्तुति की विशिष्टता निम्‍नलिखित आधारों पर विशिष्ट है:

1. समाचार सामग्री को सिविल सेवा परीक्षा (मेन्‍स) के सामान्‍य अध्‍ययन के प्रश्‍नपत्रों के आधार पर वर्गीकृत किया गया है और उस प्रश्‍नपत्र से संबंधित सभी समाचार सामग्री को एक साथ रखा गया है। उदाहरण के लिए, "द हिंदू" में प्रकाशित किए गए किसी प्रश्‍नपत्र पर सभी रिपोर्टिंग का पता लगाने के लिए, आपको Google पर एक कष्‍टदायक अभ्यास करने की आवश्यकता है क्‍योंकि इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि Google आपको, आपके खोज मापदंड के आधार पर, समस्‍त समाचारों की सूची प्रदान कर सकता है, और वह भी दिनांकवार।

 

2. इसलिए, इस वेबसाइट का प्रयास किसी भी विषय की समाचार सामग्री के लिंक के सभी थ्रेड्स को समाचार कैप्शन और समाचार सामग्री के साथ कुछ कालानुक्रमिक क्रम में रखना है ताकि आप अपना बहुत सारा समय बचा सकें और कुछ अन्य उत्पादक कार्यों में उपयोग कर सकें।

 

3. समाचार पत्र "द हिंदू" में किसी विषय से संबंधित (उदाहरण के लिए जीडीपी के लिए) 1 जून 2018 की अवधि में प्रकाशित - 31 मई 2019 समस्‍त सामग्री को प्रकाशन की विभिन्न तिथियों और खोज मापदंड के प्रकार पर निर्भर रहते हुए खोज करना बहुत मुश्किल हो सकता है, क्‍योंकि यह सामग्री Google में कई पृष्ठों में बिखरी हो सकती है। हमने इन सभी थ्रेड्स को टॉपिक, डेट, न्यूजपेपर, लिंक, कैप्शन और जरूरी एडिटिंग के साथ न्यूज की पूरी डिटेल के साथ प्रस्‍तुत है। अत: यह आपको एक ही स्थान पर किसी विशिष्ट विषय से संबंधित सभी प्रासंगिक सामग्री प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करता है।

 

4. हर समाचार में कतिपय ‘लैटिन और फ्रेंच’ शब्द हो सकते हैं, अर्थात ऐसे शब्द हो सकते हैं, जिन्हें समाचार सामग्री को ठीक से समझने से पहले आपको उनकी कुछ पूर्व जानकारी या पृष्ठभूमि की आवश्यकता होती है। उदाहरण के लिए, Biofuels पर एक PPT में (लिंक https://docs.wixstatic.com/ugd/6c7252_f4fa800a991b4384c23890c73505f8a57.pdf के साथ पृष्ठ https://www.mathsacad99.com/currentaffairs पर उपलब्ध) आपको पारिभाषिक पद "पार्टिकुलेट मैटर 2.5 (PM2.5)", "ऑक्टेन रेटिंग", "BTX" आदि का पूर्व-ज्ञान होना चाहिए ताकि आप विषय को पूरी तरह से समझ सकें। हमारे प्रस्‍तुतिकरण में इस बात का ध्यान रखा गया है कि आपको न्यूज़ आइटम में दिखने वाले ऐसे शब्दों की सबसे अच्छी समझ दी जाए।

 

5. जहां भी आवश्यक समझा गया है, सामग्री को Google मानचित्र की सहायता से समझाया गया है।

 

6. आलेख में कोर इश्‍यू का महत्‍व रेखांकित करने के उद्देश्‍य से आलेखों को हाइलाइट करने या रंग को रेखांकित करने के संदर्भ में स्वरूपित किया गया है

 

7. इस बात को ध्यान में रखते हुए कि मेन्स परीक्षा की तैयारी में समाचार की सामग्री का बहुत अच्छी तरह से उपयोग किया जाएगा, लेख की सामग्री में बहुत अधिक संपादन नहीं किया गया है और लगभग पूरी सामग्री प्रदान की गई है।